WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Latest Update

मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 covid-19 से अनाथ बच्चों के लिए सरकार बनेगी सहारा

मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021 कोरोना महामारी के कारण विश्व बाल श्रम निषेध दिवस पर आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने प्रदेश के लिए बड़ा ऐलान किया. राज्य स्तरीय वेबिनार में प्रदेश पर मंथन के दौरान ने CM गहलोत ने मुख्यमंत्री कोरोना बाल एवं विधवा कल्याण योजना  का ऐलान किया. इस योजना में कोरोना से अनाथ हुए बालक, बालिका और विधवा महिला को एक लाख का अनुदान मिलेगा. अनाथ बच्चों को 18 साल की उम्र तक 2500 रुपए की मासिक सहायता मिलेगी, जबकि उन्हें 18 साल की उम्र पूरी होने पर 5 लाख की सहायता दी जाएगी.

शिक्षा से जुड़ी लेटेस्ट अपडेट के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप में ज्वाइन हो जाएं- Click

 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में राज्यस्तरीय में  प्रदेश पर मंथन किया गया. जिसमें प्रदेश में 27 लाख बाल श्रमिकों की उपस्थिति पर चिंता जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री आशिक गहलोत ने इस दिशा में काम की अहम ज़रूरत बताई. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बोले कि सबको पता है चुनौती बड़ी है. अगर समस्या पूरी तरह खत्म करनी है सही स्टडी करनी होंगी. देखना होगा कि किन किन देशों में बाल मजदूरी नहीं है. किस देश ने बाल मजदूरी को कैसे  खत्म किया. आम आदमी की वो मजबूरियां खत्म करनी होंगी जिससे बाल मजदूरी खत्म हो.

Corona की दूसरी लहर में अनाथ बच्चों को मिलेगी ये सुविधा

कोविड-19 से निराश्रित-असहाय परिवार में मृत्यु होने की स्थिति में राहत देगी राज्य सरकार. कोरोना महामारी से माता-पिता दोनों की अथवा एकल जीवित की मृत्यु होने पर अनाथ हुए बच्चों को ‘PM CARES for Children’ की मिलेगी सुविधा. इसके साथ ही मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना के अन्तर्गत खास लाभ मिलेगा. अनाथ बालक / बालिका की तत्काल आवश्यकता हेतु एक लाख रूपये का अनुदान. 18 वर्ष तक प्रतिमाह 2500 रूपये की सहायता मिलेगी. 18 वर्ष पूर्ण होने पर 5.00 लाख रूपये की एकमुश्त सहायता.

मुख्यमंत्री कोरोना बाल कल्याण योजना 2021

12वीं तक निःशुल्क शिक्षा आवासीय विद्यालय अथवा छात्रावास के माध्यम से दी जाएगी. कॉलेज में अध्ययन करने वाली छात्राओं को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा संचालित छात्रावासों में प्राथमिकता से प्रवेश दिया जायेगा. कॉलेज छात्रों के लिये आवासीय सुविधाओं हेतु ‘अम्बेडकर डीबीटी वाउचर योजना का लाभ दिया जाएगा. युवाओं को मुख्यमंत्री युवा संबल योजना के अन्तर्गत बेरोजगारी भत्ता दिये जाने में प्राथमिकता से लाभ.

कोविड-19 से पति की मृत्यु होने पर विधवा हुई महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी. 1 लाख रुपए एकमुश्त एक्स ग्रेसिया 1,500 रुपये प्रति माह विधवा पेंशन का लाभ मिलेगा. सालाना आय की अनिवार्यता से ये सहायता मुक्त होगी. सभी आयु वर्ग की महिलाओं को योजना का लाभ मिलेगा. विधवा महिलाओं के बच्चों को 1,000/- रुपए प्रति बच्चा प्रति माह अनुदान मिलेगा. विद्यालय की पोशाक व पाठ्य पुस्तकों के लिए सालाना 2,000/- रुपए का लाभ दिया जाएगा.

Official Press Note Download – Click Here

राजस्थान शैक्षिक समाचार
राजस्थान शैक्षिक समाचार
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
DMCA.com Protection Status

You cannot copy content of this page